Connect with us

Technology

सरकार अलर्ट…! नकली Co-WIN ऐप से सावधान रहें, नहीं तो बड़ा नुकसान होगा

Published

on

Advertisement
Advertisement
Advertisement

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डी.आर. हर्षवर्धन ने बुधवार को सह-विजेता नामक एक मोबाइल एप्लिकेशन डाउनलोड करने और इसमें व्यक्तिगत जानकारी साझा करने से लोगों को प्रतिबंधित कर दिया। सरकार ने इस बारे में ट्वीट किया। ट्वीट के अनुसार, यह केंद्र सरकार की आधिकारिक सह-जीत ऐप नहीं है। गूगल प्ले स्टोर लेकिन इस नाम के कई ऐप हैं। कुछ एप्लिकेशन जिनके लिए आपको व्यक्तिगत जानकारी की आवश्यकता होती है, उन्हें 10,000 से अधिक बार डाउनलोड किया गया है। जो यूजर्स के लिए एक बड़ा नुकसान हो सकता है।

वैक्सीन की पहली खुराक 13 जनवरी से दी जा सकती है, सरकार के अनुसार। जल्द ही केंद्र सरकार द्वारा टीकाकरण की पूरी प्रक्रिया से अवगत कराया जाएगा कोविन ऐप लॉन्च किया जाएगा। कोविद -19 वैक्सीन के लिए नि: शुल्क पंजीकरण इस ऐप के माध्यम से किया जा सकता है। गूगल प्ले स्टोर पर कोविन ऐप बिल्कुल मुफ्त होगा और यूज़र आसानी से ऐप डाउनलोड कर पाएंगे। वर्तमान में , कॉइन वर्तमान में ऐप गूगल प्ले स्टोर या किसी अन्य ऐप स्टोर पर नहीं रहते।

कोविन पर रजिस्टर करने के लिए, पहले आप गूगल प्ले स्टोर से ऐप डाउनलोड करना होगा। फिर आपको आवश्यक जानकारी जोड़नी होगी और अपना नाम पंजीकृत करना होगा। पंजीकरण के लिए पहचान पत्र जैसे आधार कार्ड, पैन कार्ड या ड्राइवविंड लाइसेंस की आवश्यकता होगी। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने ट्वीट किया कि साह-विन नाम के कुछ ऐप धोखेबाजों द्वारा उसी नाम से बनाए गए हैं जो आधिकारिक सरकारी मंच हैं। यह ऐप स्टोर्स पर है। इस ऐप पर व्यक्तिगत जानकारी डाउनलोड या साझा न करें।

स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं और जनता को सत्यापन के लिए सूचित करने के लिए 12 भाषाओं में एसएमएस भेजा जाएगा। इस ऐप पर किसी का नाम दर्ज करने के बाद, सत्यापन के लिए समय और तारीख की जानकारी भी ली जाएगी। आप कोविन ऐप के जरिए आप एक यूनीक हेल्थ आईडी भी बना सकते हैं। ऑनलाइन पंजीकरण पूरा करने के बाद ऐप पर दिशानिर्देशों को पढ़ना सुनिश्चित करें।

Advertisement
Advertisement
Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *