High BP के मरीजों के लिए वरदान है तिल, कम करता है कैंसर का खतरा

Date:

हर साल मनाया जाने वाला मकर संक्रांति का पर्व इस साल 14 जनवरी को मनाया जाने वाला है. आप जानते ही होंगे कि मकर संक्रांति के दिन तिल के व्यंजन खाए जाते हैं. इस पर्व पर तिल का सेवन किया जाता है और शास्त्रों के अनुसार इनका बहुत महत्व है। हालांकि तिल में कई आयुर्वेदिक गुण भी होते हैं जो सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होते हैं। अब आज हम आपको तिल के स्वास्थ्य लाभों के बारे में बताने जा रहे हैं।

तिल खाने के फायदे- रोजाना तिल खाने से शरीर में खून की मात्रा (तिल के स्वास्थ्य लाभ) की मात्रा बनी रहती है। इतना ही नहीं हाई बीपी के मरीजों के लिए यह बेहद फायदेमंद है। साथ ही तिल बालों और त्वचा को मजबूत और स्वस्थ बनाने में मदद करता है। कहा जाता है कि रोजाना तिल खाने से मेटाबॉलिज्म बेहतर होता है। दरअसल तिल में मौजूद प्रोटीन शरीर को काफी ताकत और एनर्जी देता है। तिल के बीज बड़ों के लिए उतने ही फायदेमंद होते हैं जितने कि बच्चों के लिए क्योंकि इनमें डाइटरी प्रोटीन और अमीनो एसिड होते हैं जो बच्चों की हड्डियों के विकास में मदद करते हैं।

सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि तिल में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट कैंसर (तिल खाने के फायदे) कोशिकाओं को बढ़ने से रोकते हैं। तिल फेफड़े सीज़र, पेट कैंसर, ल्यूकेमिया, प्रोस्टेट कैंसर, स्तन कैंसर जैसी बीमारियों के विकास के जोखिम को भी कम करता है। दरअसल, इसमें फाइबर और मैग्नीशियम की गुणवत्ता होती है और इसकी विशेषताएं शरीर में फाइबर और मैग्नीशियम के स्तर को नियंत्रित करती हैं। इसलिए तिल मधुमेह के रोगियों के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है।

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share post:

Popular

More like this

close